What Are the Symptoms,Types and Cause of Breast Cancer ?


What Are the Symptoms,Types and Cause of Breast Cancer ?

Breast Cancer-यह  सबसे आम प्रकार के cancer हैं जिसका निदान 50 के age वाली महिलाओं में अधिक होता है लेकिन young women में भी breast cancer मिल सकता है |

breast cancer एक ऐसी बीमारी है जिसमे breast tissue की cells परिवर्तित होती हैं और खुद को reproduce रखती हैं | ये असमान्य कोशिकाएं एकसाथ मिलकर tumor बनाती हैं | ये tumor कैंसर होता है जब सभी असामान्य कोशिकाएं breast के अन्य हिस्सों पर आक्रमण करते हैं  या blood stream या lymphatic system  के माध्यम से शरीर के अन्य हिस्सों में फैलते हैं | यह आमतौर पर milk producing gland(lobule) या tube के अकार की नलिकाओं में शुरू होता है जो lobule से milk को nipple तक लाते हैं |

अगर स्तन कैंसर प्रारंभिक अवस्था में पता चल जाए तो इसके recovery के बहुत अच्छे chances होते हैं इसलिए यह महत्वपुर्ण है कि सभी women को breast में  किसी भी प्रकार के होने वाले chenges की जांच करनी चाहिए जिससे सही समय में treatment किया जा सके |

Symptoms of Breast Cancer (स्तन कैंसर के लक्षण )

Breast cancer के  कई लक्षण हो सकते हैं लेकिन आमतौर पर यह गांठ या breast tissue का मोटा होना हो सकता है | लेकिन अधिकांश गाठें स्तन कैंसर नही होते हैं इसलिए डॉक्टर द्वारा उन्हें जांचना सबसे सही होता है | 
स्तन कैंसर के लक्षणों में शामिल हैं –
  • एक या दोनों स्तनों के आकार में परिवर्तन होना 
  • arm के आसपास या नीचे गांठ होना जो कि यह संकेत हो सकता  है कि स्तन कैंसर फ़ैल गया है 
  • breast या nipple की स्किन का लाल होना 
  • nipple के आसपास दाने होना 
  • menstrual cycle के दौरान breast के अंदर या उसके नीचे की ओर गहरा मोटा गांठ होना 
  • nipple के appearance में परिवर्तन होना 
  • nipple से fluid discharge होना यह स्पष्ट अहुर bloody भी हो सकता है 
  • breast में दर्द होना 
आमतौर पर breast में pain होना स्तन कैंसर का लक्षण नही होता है |

Read also:

Types of Breast Cancer (स्तन कैंसर के प्रकार)

अगर आप सबसे सही परिणाम पाना चाहते हैं तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करके breast cancer के प्रकार को समझना होगा | आपका उपचार आपके कैंसर के  प्रकार पर निर्भर करेगा | breast cancer के कई प्रकार होते हैं ज्यादातर स्तन कैंसर कार्सिनोमा होते हैं जो organ या tissue की cells से शुरू होते हैं  जैसे-

1. Ductle carcinoma 

इन्हें आमतौर पर non invasive cancer कहा जाता है जिसका अर्थ है की cells असामन्य है लेकिन यह आसपास के  tissue में फैलती नही है | यह अत्यधिक उपचार योग्य कैंसर है जो milk duct से start होता है | 

2. Invasive ductal carcinoma 

यह सबसे आम स्तन कैंसर है जो milk duct से शुरू होता है और duct wall के माध्यम से टूटकर आसपास के breast tissue पर हमला करता है यह शरीर के  अन्य भागों में भी फ़ैल सकता है |

3. Lobular carcinoma 

इस प्रकार का  कैंसर milk producing lobule में शुरू होता है technically तौर यह breast cancer नही है लेकिन असामान्य कोशिकाओं का संग्रह है जो future में breast cancer होने की सम्भावना रखता है | 

4. Inflammetory breast cancer 

इस प्रकार का breast cancer बहुत दुर्लभ है जिसका मुख्य कारण breast में redness और swelling होता है इस प्रकार के cancer से प्रभावित breast warm और heavy feel करता है इसमें skin hard या orange color की लकीरे हो सकती हैं अगर इस प्रकार के  लक्षण आपको दिखाई देते हैं तो डॉक्टर को तुरंत दिखाएँ | 

5. Paget disease

यह भी दुर्लभ cancer है जो nipple के skin को प्रभावित करता है इस प्रकार के cancer में nipple से bloody discharge भी दिखाई दे सकता है | ऐसी हालत वाले अधिकाशं लोगो में एक या अधिक tumor  ही breast में होता है | 

6. Metaplastic breast cancer 

यह भी दुर्लभ breast cancer है जो milk duct शुरू होता है और बड़े tumor बनाता है इनमे कोशिकाओं का मिश्रण हो सकता है जो सामान्य स्तन कैंसर के मुकाबले अलग दिखाई देता है और इसे diagnose कर पाना भी मुश्किल हो सकता है | 

Cause of Breast Cancer(स्तन कैंसर के कारण) 

स्तन कैंसर breast कोशिकाओं के DNA में genetic mutation के कारण होता है | यह damage क्यों और कैसे होता इसका स्पष्ट कारण नही है | कुछ mutation randomly विकसित होते हैं जबकि कुछ विरासत या life style में बदलाव के कारण हो सकता  है | 


स्तन कैंसर को बढ़ने के  लिए कुछ ज्ञात कारक इस प्रकार हैं –
  • age(उम्र)- जैसे जैसे age बढती है risk बढ़ता जाता है 
  • hormone (हॉर्मोन )– women में early menstruation और late menopause स्तन कैंसर का  सबसे बड़ा कारण हो सकता है |
  • weight– women जो overweight होती हैं उनमे  menopause के बाद स्तन कैंसर का ज्यादा जोखिम होता है |
  • alchohol का अत्यधिक उपयोग 
  • स्तन कैंसर का  पारिवारिक इतिहास 

Stage of Breast Cancer (स्तन कैंसर के चरण)

स्तन कैंसर के 5 stage होते हैं जो tumor के आकार को reflect करता है चाहे वह आक्रामक हो चाहे लिम्फ नोड पर पंहुच गया हो या शरीर के अन्य भागों में फैला हो या नही |

1. Stage 0 

यह स्तन कैंसर का  प्रारंभिक चरण है इसमें असमान्य कोशिकाएं शामिल होती है जो milk duct से breast tissue पर नही फैलते हैं |जहाँ से ये शुरू होती हैं |

2. Stage 1 

यह आक्रामक कैंसर है जो breast tissue पर हमला कर रहा है लेकिन स्तन के बाहर नही फैला हुआ है | 

3. Stage 2  

इस stage पर स्तन cancer बढ़ रहा है लेकिन स्तन या आसपास के लिम्फ नोड में ही है |

4. Stage 3 

यह  सबसे उन्नत कैंसर है जो लसिका नोड में है लेकिन फैला हुआ नही है | इसे तीन श्रेणियों में विभाजित किया गया है जिसमे tumor का अकार और कितने और किस लसिका नोड में शामिल है | 

5. Stage 4 

इस स्टेज में कैंसर शरीर के अन्य हिस्सों में फैला होता है ज़्यादातर bones , lungs, brain liver में | लेकिन यह स्टेज बहुत दुर्लभ है | अगर रोगी का new treatment किया जाये तो काफी लम्बे समय तक रोगी जीवित रह सकता है | 

Treatment of Breast Cancer (स्तन कैंसर का इलाज )

अगर प्रारंभिक अवस्था में ही स्तन कैंसर का  पता लगा लिया जाता है तो सरीर के आसपास फ़ैल जाने से पहले ही इसका उपचार किया जा सकता है | इसके अलावा स्तन कैंसर को treat किया जाता है –
  • सर्जरी 
  • कीमोथेरेपी 
  • रेडियोथेरेपी 
आमतौर पर सर्जरी स्तन कैंसर के ट्रीटमेंट का पहला प्रकार है कुछ case में कीमोथेरपी और रेडियोथेरेपी को follow किया जाता है | 
सर्जरी का प्रकार स्तन कैंसर के प्रकार पर निर्भर करता है जिस पर आपके डॉक्टर सही ट्रीटमेंट प्लान पर आपसे discuses कर सकते हैं |

Prevention of Breast Cancer (स्तन कैंसर की रोकथाम)

हालाकी आपको कोई नही बता सकता कि स्तन कैंसर की रोकथाम कैसे की जाये | लेकिन life style में उछ बदलाव जोखिम को कम कर सकते हैं |
  • अपने बच्चे को breast feed कराएँ | अपने बच्चे को breast feed कराने वाली women में, breast feed न कराने वाली women की अपेक्षा स्तन कैंसर का कम जोखिम होता है |
  • अपने वजन पर कण्ट्रोल करें | अधिक वजन और मोटापा से स्तन कैंसर का  खतरा बढ़ जाता है 
  • exercise करें | जो महिलाएं regular exercise करती हैं उनमे स्तन कैंसर का  कम जोखिम होता है |
  • alchohol का सेवन सिमित रखें |
  • हॉर्मोन का सेवन कम करें क्योंकि हॉर्मोन थेरेपी यूजर में स्तन कैंसर का जोखिम अधिक होता है | 


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*