Insomnia cause

Insomnia (अनिद्रा ) एक sleep disorder है अगर आपको insomnia है तो आपको हो सकता है कि ,
  • लम्बे समय तक जागना और नींद आने में problem होना |
  • बार-बार नींद का खुलना और वापिस सोने में परेशानी होना |
  • सुबह जल्दी नींद खुल जाना |
  • ऐसा feel होना की आप सोये ही  नही है |

अगर यह समस्या आपके साथi है तो आप insomnia से ग्रसित हैं |  insomnia आपकी health को बहुत प्रभावित करता है | नींद न पूरी होने की वजह से आप पूरे दिन low energy feel करते हैं और पूरे दिन आप नींद महसूस करते हैं | 

insomnia को short और poor quality वाले नींद के रूप में  परिभाषित किया जाता है जो दिन के दौरान आपके कार्य और आपके health को प्रभावित करता है | अलग अलग व्यक्ति में नींद की मात्रा अलग अलग होती है लेकिन ज़्यादातर फ्रेश feel करने के लिए 7-8 घंटे की नींद की ज़रूरत होती है |

  अनिद्रा के प्रकार ( Type of Insomnia)

insomniya के two types होते हैं –

1. Primary insomnia

यह खुद का एक विकार है जो आपको आपके stressful life , shift work और काम में बदलाव की वजह से आपकी नींद को disrupt करता है | primary insomnia कई महीनो या कुछ सालो तक रह सकता है लेकिन अगर समस्या का समाधान किया जाये तो यह समाप्त हों सकता है |

2. Secondary insomnia

यह किसी medical side effect की वजह से हों सकता है जैसे 
  • अवसाद (depression)
  • किसी गंभीर दर्द जैसे migraine . arthritis
  • gastrointestinal problem जैसे heartburn
  • अल्जाइमर रोग
  • Menopause

नींद की कमी से निपटने के लिए कुछ लोग एसी आदतों को अपना लेते हैं जैसे नींद न आने के बारे में सोचना या बहुत जल्दी  bed पर जाना | लेकिन इन आदतों से नींद  ख़राब हों सकता है |

  अनिद्रा के लक्षण ( Symptoms of Insomnia)

  • रात म सोने में कठिनाई होना 
  • चिडचिडापन 
  • अवसाद 
  • बहुत जल्दी उठना 
  • दिन में थकान या नींद का आना 
  • काम में focus रहने पर कठिनाई होना 
  • सोने के बारे में चिंता करना 
  • रात में सोने के दौरान बार-बार जागना 

अनिद्रा के कारण (Cause of Insomnia)

अनिद्रा मुख्यतः शारीरक या मनोवैज्ञानिक कारको के कारण होता है | कभी-कभी medical condition chronic insomnia का कारण बनता है chronic insomnia के निम्न कारण हो सकते हैं जैसे- 
1. देर रात तक भोजन करने से आपको body में uncomfortable feel हो सकता है जो आपकी अनिद्रा का कारण बन सकता है |
2. रात में सोने से पहले काम, school, वित्त , परिवार इन सबके बारे में चिंता करने से आपका मन सक्रीय हो सकता है जिससे अनिद्रा की समस्या हो सकती है |
3. poor sleep habit की वजह से भी अनिद्रा की समस्या हो सकती है, इसके अंतर्गत समय पर न सोना , सोने के समय mobile या laptop में busy होना, अपने bed को workplace बनाना etc. शामिल है | 
इसके अलावा अनिद्रा के सामान्य कारणों में शामिल है –
1. कई दवाए नींद में हस्तक्षेप कर सकते हैं जैसे blood pressure और asthma में ली जाने वाली दवाएं इसके अलावा दर्द दवाएं, allergy दवाएं etc.
2. कैफीन , चाय, कॉफ़ी , निकोटिन और शराब ये सभी उत्तेजित पैय पदार्थ हैं इन्हें रात में सोने से पहले लेने पर बचना चाहिए | 
3. कई medical condition है जो अनिद्रा का कारण बन सकते हैं जैसे- diabetes, chronic pain, heart disease , asthma, thyroid और alzheimer disease शामिल है |
4. mental health disorder भी अनिद्रा का कारण हो सकता है जैसे- anixety disorder, depression जैसी समस्या आपके नींद को disrupt कर सकती है | 

अनिद्रा का जोखिम (Rsk of Insomina )

  • महिलाओ को पुरुषों की तुलना में अधिक insomnia कि problem होती है | महिलाओं में अनिद्रा का एक कारण menstrual cycle और menopause में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन भी है | गर्भावस्था के दौरान हार्मोनल, भावनात्मक और शारीरिक परिवर्तन नींद में कमी लाता है कुछ medical condition भी अनिद्रा का कारण हों सकता है |
  • 60 साल से अधिक उम्र होने के कारण भी अनिद्रा बढ़ जाती है इसका मुख्य कारण सोने के पैटर्न और स्वास्थ में बदलाव है |
  • mental health disorder या physical health disorder वाले व्यक्ति में अनिद्रा का जोखिम ज्यादा होता है |
  • बहुत अधिक तनाव से भी अनिद्रा का जोखिम बढ़ जाता है |
  • regular schedule न होने की वजह से भी अनिद्रा का जोखिम बढ़ जाता है जैसे – काम या यात्रा में बदलाव भी नींद को प्रभावित कर सकते हैं |

अनिद्रा  का  निदान कैसे करें ( How to diagnose of insomnia)

अगर आपको नींद में problem आ रही है तो अपने doctor से सलाह लें , खासकर जब नीं की वजह से आपकी दैनिक गतिविधियाँ प्रभावित हों रही हों | आपके  doctor आपके  physical एग्जाम ले सकते हैं और कुछ मामलों में आपका special test भी किया जा सकता है |

Better sleep के लिए क्या करें 

  • हर रात एक ही time में सोने की कोशिश करें और एक ही time में सुबह उठने की कोशिश करें |
  • कैफीन निकोटीन से दूर रहें |
  • सुनिश्चित करें की सोने से 2 – 3 घंटे पहले डिनर करें |
  • physical activity करें |
  • अपने बेडरूम को शांत और अधेरा रखें |
  • नींद पहले खुद को relax करने के लिए books पढ़ें , music सुने या नहा लें |
  • अगर आपको नींद नही आ  रही है तो अपने bed से उठकर बैठ जाएँ और किसी दुसरे room में जाकर कुछ एसी activity करें जिससे आप sleepy feel करें और फिर वापिस आकर सो जाएँ |
  • अगर आपको लगता है कि आपको insomnia (अनिद्रा) से सम्बंधित कोई और समस्या है तो आप अपने doctor से ज़रूर परामर्श लें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *