समझदार निर्णय लेने के लिए खुद से कैसे पूछें ?

How to Ask Yourself to Make Wise Decisions in Hindi

एक समझदार decision लेना लोगो के बीच प्रतिष्टित skills में से एक है क्योंकि यह हमें effective problem को solve करने और decision लेने में सक्षम बनाता है |
इसे हम life skill भी कह सकते हैं क्योंकि hamare द्वारा सोचने की क्षमता यह insure करती है कि हम किसी भी situation में सही decision ले |
एक समझदार decision  लेने के लिए हमें कैसे सोचना चाहिए  इस बारे में article मै पहले लिख चुकी हूँ | अगर आपने उस पोस्ट को नही पढ़ा है तो उसे ज़रूर पढ़ें |

How to think to Make Effective Decision in hindi / प्रभावी निर्णय लेने के लिए कैसे सोचें 

समझदार decision लेना एक ऐसा कौशल है जो सभी के लिए positive और beneficial solution बना सकता है|

Make Wise Decision लेने के लिए कैसे question करें 

हम यह कह सकते हैं कि एक effective thinker बनने  के लिए समय लग सकता है , लेकिन कुछ ऐसे प्रश्न हैं जो आप खुद से पूछ  सकते हैं | खुद से इस तरह के question पूछने से यह आपके अन्दर deep thought process को encourage करता है जिससे आप एक समझदार निर्णय ले सकते हैं |

focused-knowledge question (ध्यान केन्द्रित प्रश्न )

सबसे पहले खुद से basic question पूछें यह question सरल शब्दों में होना चाहिए जिसक solution आसानी से मिल सके | इस प्रकार के question विशिष्ट परिस्थितयों में एक context (सन्दर्भ) बनाने में help करते हैं | इनके example इस प्रकार हैं –
  • कब हुआ ?
  • क्या हुआ ?
  • क्यों …हुआ था ?
  • किसने किया ?

comprehension based question(समझ आधारित प्रश्न )

basic question खुद से पूछने के बाद आपका next step अपनी समझ को प्रदर्शित करना है | आप केवल  question का एक set बनाइये जिससे आपको जानकारी मिल सकती है ताकि आप एक समझदार निर्णय ले सके | यकीन मानिये ये question आपके अन्दर एक गहरी challanging thought process को  incourage करते हैं | जिससे आपको यह समझने में मदद मिलती है कि specific फैक्ट एक दूसरे से किस प्रकार सम्बंधित हैं |
for example-
  • वहाँ क्या सबूत है ?
  • कैसे …समझाओ ?

analysis based question(विश्लेषण आधारित प्रश्न )

आपने first step में खुद से जो question किये थे अब उनका analysis का वक़्त आ गया है | उन question के कारणों का पता लगाइए और जानकारी एकत्रित करिए ऐसा करने से आप पूरी तरह से अलग अलग प्रकाश में चीज़ों के बारे में सोच सकते हैं | यहाँ कुछ example हैं –
  • आप कैसे classify करेंगे ?
  • क्या आप पहचान सकते हैं ?
  • क्या वजह है ?

evalution- based question (मूल्यांकन आधारित प्रश्न )

इस प्रकार के question निष्कर्ष और फैसले का अनुमान लगाने में मदद करते हैं | एक समझदार निर्णय लेने के लिए भी यह process बहुत important होती है | जैसे आप किसी दुसरे के बारे में एक समझदार निर्णय लेने जा रहे हैं तो उसकी आप तुलना करेंगे |

synthesis based question (संश्लेषण सम्बंधित प्रश्न )

यह last step है जहाँ पर आप अपने question का synthesis करते हैं क्योंकि question का संश्लेषण करना बहुत ज़रूरी है इससे आपको एक समझदार निर्णय लेने में मदद मिलती है | for example
  • क्या होगा अगर …?
  • क्या हम कोशिश कर सकते हैं ?
  • कैसा लगेगा ?

यह structure आपके अन्दर एक समझदार निर्णय लेने की process को दर्शाता है | खुद से  इस  प्रकार के question पूछने से ये question आपकी thinking process को चुनौती देते हैं  और समझदार  निर्णय लेने में आपकी मदद करते हैं |

Make Wise Decision के लिए एक small example

यहाँ पर इस structure को समझाने के लिए मै  एक छोटा सा  example दे रही हूँ  i hope आपको इससे यह structure समझ में आएगा |
मान लीजिये की आप एक business start करना चाहती हैं , लेकिन आप एक समझदार decision नही ले पा रही  हैं कि यह आपके लिए सही है या गलत | ऐसी situation में आपको खुद से question पूछना होगा कि –
  1.  आपको  कौन सा business start करना है ?
  2. क्या आपका उस business में interest है ?
  3. आप business setup करेंगी ?
  4. कितना benefits मिलेगा ?
  5. benefits के लिए आपको extra और क्या करना होगा ?
यह question पूरे structure को define कर रहे हैं कि एक समझदार निर्णय लेने के लिए आपको खुद से किस प्रकार के question पूछने चाहिए अगर आप इन structure को follow करते हैं तो आप एक effective थिंकर बन सकते हैं |
अगर आपको यह article अच्छा लगा तो इसे social network पर ज़रूर share करें 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*